dahej mukt mithila

(एकमात्र संकल्‍प ध्‍यान मे-मिथिला राज्‍य हो संविधान मे) अप्पन गाम घरक ढंग ,अप्पन रहन - सहन के संग,अप्पन गाम-अप्पन बात में अपनेक सब के स्वागत अछि!अपन गाम -अपन घरअप्पन ज्ञान आ अप्पन संस्कारक सँग किछु कहबाक एकटा छोटछिन प्रयास अछि! हरेक मिथिला वाशी ईहा कहैत अछि... छी मैथिल मिथिला करे शंतान, जत्य रही ओ छी मिथिले धाम, याद रखु बस अप्पन गाम - अप्पन बात ,अप्पन मान " जय मैथिल जय मिथिला धाम" "स्वर्ग सं सुन्दर अपन गाम" E-mail: apangaamghar@gmail.com,madankumarthakur@gmail.com mo-9312460150

रविवार, 13 नवंबर 2011

परिवर्तन.....

बर्तन बदलल बसन बदलल
सत्ता बदलल शासन बदलल
फुलचानक दोकान बदलल
पुआ आ पकबान बदलल..

पोखरिक घाट बदलल
गामक बाट बदलल
खरौआ जौरक खाट बदलल
गमैया हाट बदलल....

गीतनादक बहस बदलल
रमुआ मायक आस बदलल
गेना फुलक सुवास बदलल
कनुआ सन खवास बदलल....

ढोल बदलल पिपही बदलल
ठाओ बदलल पिरही बदलल
चुरा बदलल मुरही बदलल
उँच-नीच लग शिरही बदलल...

1 टिप्पणी:

सागर ने कहा…

behtreen prstuti....